खाली पेट न खाएँ लीची, यह जानलेवा हो सकती है

हाल ही में भारतीय और अमेरिकी डाक्टरों की एक टीम ने अपनी संयुक्त जाँच में पाया कि खाली पेट लीची खाने से पेट में methylenecyclopropylglycine (MPCG) केमिकल जमा हो जाता है और इससे हाइपोग्लाइसेमिया या लो-ब्लड शुगर की समस्या हो जाती है।

उत्तर बिहार के लीची क्षेत्र मुजफ्फरपुर में हर साल होने वाले बच्चों की मौत प्रशासन और मेडिकल साईंस के लिए एक पहेली बनी हुई थी। भारत सराकर के अधीन राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र और संयुक्त राज्य अमेरिका (USA) के रोग नियंत्रण और निषेध सेंटर ने इस विषय पर संयुक्त जांच की और इसके बाद इस नतीजे में पाया गया कि खाली पेट लीची खाने से बच्चों की मौत हो रही है।

लीची में methylenecyclopropylglycine (MPCG) केमिकल प्राकृतिक रूप में मौजूद होता है और खाली पेट खाने के कारण से बच्चों को दिमागी बुखार होता और दौरे पड़ने लगते हैं।  प्रसिद्ध मेडिकल पत्रिका ‘द लैनसेट’ में इस विषय पर रिपोर्ट प्रकाशित की गई है। रिपोर्ट के अनुसार अक्सर बच्चे रात में बिना भोजन किए सो जाते हैं। इससे शरीर में हाइपोग्लाइसीमिया या लो-ब्लड शुगर की समस्या आती है। सबेरे खाली पेट लीची खाने से कुपोषित बच्चों में यह समस्या बढ़ जाती है।

लीची एक मौसमी फल होने के कारण इसके सेवन के कई फायदे भी हैं।  इसमें प्रति 100 ग्राम में 66 कैलोरी होती है। इसमें क्लोस्ट्रॉल बनने के वसा नहीं होते हैं और काफी मात्रा में फाइबर, विटामिन्स और एंटी ऑक्सिडेंट होते हैं।