No Image

“आदिवासी” शब्द को विवादास्पद बनाने की एक नयी मुहिम

1st November 2018 Neh Arjun Indwar 0

नेह इंदवार आदिवासियों की रूढ़ हो चुकी पहचान “आदिवासी” शब्द को विवादास्पद बनाने की एक नयी मुहिम शुरू हुई है। मूल रूप से गैर आदिवासियों और विशेष कर आरएसएस जैसी संस्थाओं द्वारा यह शुरू की […]

No Image

आदिवासी समाज को दौरे से क्या मिलने वाली है ?

1st November 2018 Neh Arjun Indwar 0

           नेह इंदवार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी  दिनांक 29 अक्तूबर 2018 से तीन दिन की उत्तर बंगाल दौरे पर हैं। खबरों के अनुसार इस दौरे में ममता दीदी डुवार्स […]

No Image

आदिवासी समाज का जमींदार

2nd October 2018 Neh Arjun Indwar 0

“आदिवासी नेतादेर तोप” (कृपया खबर कटिंग नीचे देखें) शीर्षक से प्रकाशित खबर से डुवार्स तराई के किसी जागरूक आदिवासी का उदासीन रहना संभव नहीं है। डुवार्स तराई में नेतागण कैसे आदिवासी समाज का जमींदार बन […]

No Image

चाय मजदूरों का शोषण-संघर्ष गाथा : 13

19th September 2018 Neh Arjun Indwar 0

प्रोविडेंट फंड कार्यालय ने अलिपुरद्वार, जलपाईगुड़ी और कुचबिहार जिलों के ऐसे चाय बागान, जो मजदूरों से पीएफ का रूपया तो काटते हैं लेकिन उसे पीएफ कार्यालय में जमा नहीं करते हैं, पर कार्रवाई करते हुए […]

No Image

चाय मजदूरों के संघर्ष और शोषण गाथा– 12

31st August 2018 Neh Arjun Indwar 0

नेह इंदवार हाल ही में कोहिनूर बागान बंद हो गया । 25 मार्च 2018 को बंद कोहिनूर चाय बागान को त्रिपक्षीय समझौता के आधार पर खोला गया था। इसे खोलने के लिए सरकारी पक्ष ने […]

No Image

चाय मजदूरों की न्यायपूर्ण मजदूरी का संघर्ष गाथा-11

28th August 2018 Neh Arjun Indwar 0

नेह इंदवार · पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा चाय मजदूरों के लिए न्यूनतम मजदूरी निर्धारण के लिए बनी सलाहकार समिति में मजदूरों की ओर से शामिल ज्वाईंट फोरम ने 23 अगस्त 2018 को कोलकाता में आयोजित […]

No Image

तृणमूल कांग्रेस पार्टी की ठगी नीति 10

17th August 2018 Neh Arjun Indwar 0

नेह अ इंदवार  * इतना तो तय लगता है कि पश्चिम बंगाल में सत्ता संभाल रही तृणमूल कांग्रेस पार्टी की ममता सरकार मजदूरों को भिखारी समझती है। वह उसे पाँच दस रूपये से अधिक पाने […]

No Image

डुवार्स तराई में चल रही मजदूरी ठगी धारावाहिक-9

17th August 2018 Neh Arjun Indwar 0

नेह अ इंदवार * चाय बागान के मजदूरों को ठगने में पश्चिम बंगाल के नेताओं को महारत हासिल है। पश्चिम बंगाल का शासन और प्रशासन विशेष कर श्रम मंत्रालय के अफसरों को इस मामले पर […]

No Image

चाय मजदूरों के साथ तृणमूल कांग्रेस पार्टी की ठगी कथा-7

16th August 2018 Neh Arjun Indwar 0

नेह अ इंदवार और जैसे कि आशंका थी तृणमूल कांग्रेस पार्टी की माँ-माँटी-मनुष्य की सरकार ने फिर से चाय मजदूरों के साथ न्यूनतम मजदूरी के नाम पर ठगी का खेल दिखाया। इस बार खेल दिखाने […]

No Image

डुवार्स तराई की चाय बागान मजदूरी गाथा-6

16th August 2018 Neh Arjun Indwar 0

नेह अ इंदवार 1 अप्रैल 2011 से लागू तीन वर्षीय त्रिपक्षिक वेतन समझौता तीन साल चलने के बाद 31 मार्च 2013 को खत्म हो गया था। 1 अप्रैल 2014 से नया वेतन समझौता लागू होना […]